Mahua Live Nalanda: काशी विश्वनाथ धाम के लोकार्पण से सैंकड़ों वर्ष पुरानी मुराद हुई पूरी: राजीव रंजन

Mahua Live Nalanda: काशी विश्वनाथ धाम के आज हुए लोकार्पण के लिए प्रधानमन्त्री मोदी का आभार प्रकट करते हुए भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष राजीव रंजन ने कहा कि काशी विश्वनाथ धाम के आज हुए लोकार्पण से प्रधानमन्त्री मोदी ने देश की सदियों पुरानी मुराद को पूरा कर दिया है।इस लोकार्पण से भारतीय संस्कृति के एक स्वर्णिम अध्याय की शुरुआत हुई है। श्री रंजन ने कहा कि काशी सदैव से ही अध्यात्म, संस्कृति और शिक्षा का केंद्र रही है।काशी विश्वनाथ धाम के विस्तार और सौन्दर्यीकरण से सांस्कृतिक और धार्मिक गतिविधियों को बढ़ावा मिलेगा। इससे वाराणसी का आध्यात्मिक गौरव और समृदध होगा।प्रधानमंत्री मोदी का विजन कॉरिडोर को इस तरह से बदलना था कि यह न केवल तीर्थयात्रियों के आध्यात्मिक उत्साह को बनाए, बल्कि विरासत, दर्शन और अध्यात्म में रुचि रखने वाले देश-विदेश के श्रद्धालुओं को आकर्षित किया जा सके।प्रधानमंत्री मोदी ने सांस्कृतिक राष्ट्रवाद को बढ़ावा देने के साथ ही इसे विकास से जोड़ दिया है।उन्होंने कहा कि काशी विश्वनाथ धाम का आज हुआ यह लोकार्पण देश के हजार वर्षों की तपस्या और प्रतीक्षा का प्रतिफल है. आक्रांताओं के निरंतर प्रहार और अतिक्रमण के कारण महादेव संकरी गलियों में छिप गये थे।लेकिन आज लगभग 500 साधु-संतों और मंत्रोच्चार के साथ हुए इस लोकार्पण के बाद अब काशी विश्वनाथ धाम का दिव्य और भव्य स्वरूप स्पष्ट दिखाई देने लगा है। 3 हजार स्क्वायर फीट से बढ़कर अब इस मंदिर का प्रांगण 5 लाख स्क्वायर फीट तक फ़ैल गया है।लंबे समय से इस परियोजना पर काम किया जा रहा था और करीब 32 महीने में बाबा के पूरे परिसर का कायाकल्प हो गया।वाराणसी से लोकसभा सांसद प्रधानमंत्री मोदी का यह ड्रीम प्रोजेक्ट है, जिसके निर्माण में उन्होंने कोई कसर नहीं छोड़ी है।इस भव्य कॉरिडोर में छोटी-बड़ी 23 इमारतें और 27 मंदिर हैं।इसके अतिरिक्त गंगा घाट से सीधे कॉ‍रिडोर के रास्‍ते बाबा विश्‍वनाथ के दर्शन किए जा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.