Mahua Live Nalanda: डीपीआरओ ने “हर गाँव सोलर स्ट्रीट लाइट” योजना एवं “मॉडल सिटीजन चार्टर” की समीक्षा की।

Mahua Live Nalanda: डीपीआरओ नवीन कुमार पाण्डेय ने मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना पार्ट -2 के तहत “हर गाँव सोलर स्ट्रीट लाइट” योजना एवं “मॉडल सिटीजन चार्टर” की समीक्षा की। बैठक मे एसडीसी उपासना सिंह और डीपीआरसी नोडल नीतू कुमारी भी उपस्थित थी।डीपीआरओ ने बताया कि इस योजना के तहत वार्डो में बसावटों के अंतर्गत अवस्थित विद्युत वितरण पोल पर सोलर स्ट्रीट लाइट अधिष्ठापित की जानी है। इसके तहत विद्युत वितरण पोल के सर्वेक्षण का कार्य राज्य के सिर्फ 10 जिलों में पूर्ण किया गया है, जिसमे से नालंदा एक है। वार्डों में बसावटों के बीच अवस्थित बिजली के पोल पर सोलर स्ट्रीट लाइट लगाई जाएगी तथा यह लाइट 12-20 वाट की होंगी। लाइट लगाने की जिम्मेदारी जिस भी कंपनी को सौंपी जाएंगी उसी को अगले पांच वर्ष तक इन लाइटों का रखरखाव भी करना होगा। इस योजना में बिहार रिन्यूअबल एनर्जी डेवलपमेंट एजेंसी (ब्रेडा) तकनीकी सहयोग देगा। इस योजना में जीपीएस के माध्यम से यह भी जानकारी मिलेगी कि कहां-कहां बल्ब लगाए गए हैं। इस योजना में 15 प्रतिशत खर्च 15वें वित्त आयोग की अनुशंसा के तहत मिली राशि से तथा शेष 25 प्रतिशत खर्च छठे राज्य वित्त आयोग और राज्य योजना मद से की जाएगी।

डीपीआरओ ने बताया कि कार्यपालक सहायकों द्वारा प्रत्येक वार्ड में भ्रमण कर सार्वजनिक स्थानों व बसावटों के बीच स्थित विद्युत पोल का सर्वे कार्य पूरा कर लिया गया है। सोलर स्ट्रीट लाइट लगाए जाने के क्रम में स्थल चयन हेतु पंचायत सरकार भवन के दोनों इंट्री प्वाइंट, अस्पतालों सहित अन्य जरूरी स्थानों को ध्यान में रखा गया है। सर्वे के दौरान विद्युत वितरण कंपनी द्वारा दिया गया पोल आइडेंटिफिकेशन नंबर एवं निकटवर्ती निजी आवास के मुखिया का नाम दर्ज किया गया है। नालंदा ज़िले में कुल पोलों की संख्या 51238 आंकलित की गयी है।
सर्वे के बाद वार्ड क्रियान्वयन एवं प्रबंध समिति से अनुमोदन प्राप्त कर सभी वार्डों की अनुमोदित सूची को ग्राम पंचायत की कार्यकारिणी समिति की बैठक में पारित किया गया है तथा डबल्यूआईएमसी एवं ग्राम पंचायतों के कार्यवाही प्रतिवेदन ऑनलाइन एमआईएस के माध्यम से अपलोड किया गया है। जल्द ही जिला पंचायती राज पदाधिकारी के माध्यम से इस सूची को ब्रेडा के पदाधिकारी को सौंप दिया जाएगा।

डीपीआरओ ने बताया कि “मेरी पंचायत, मेरा अधिकार -जन सेवाये हमारे द्वार” अभियान के तहत नालंदा जिले में ग्राम पंचायतों द्वारा मॉडल नागरिक चार्टर निर्मित किया गया है I इस अभियान का मुख्य लक्ष्य प्रत्येक ग्राम पंचायतों द्वारा प्रदान की जाने वाली नागरिक सेवाओं की प्रकृति के अनुरुप ग्राम पंचायत मॉडल नागरिक चार्टर निर्मित करना है l विशेष ग्राम सभा आयोजित कर ग्राम सभा द्वारा इसका अनुमोदन किया गया हैl
http://panchayatcharter.nic.in पोर्टल पर अभियान से सम्बंधित आकड़ो यथा- नोडल अधिकारी एवं फैसिलिटेटर का रजिस्ट्रेशन, विशेष ग्राम सभा का कैलंडर अपलोड करना, ग्राम सभा की बैठक उपरांत ग्राम सभा का संकल्प अपलोड करना एवं अभियान से सम्बंधित अन्य आकड़ो की प्रविष्टी भी कर दी गई है l राज्य में सिर्फ नालंदा और सुपौल में यह कार्य पूर्ण है। नालंदा जिला के सभी 231 ग्राम पंचायतों (100%) द्वारा मॉडल नागरिक चार्टर निर्मित किया जा चुका है एवं सभी आकड़ो का प्रविष्टि ससमय पोर्टल पर किया जा चुका है l

Leave a Reply

Your email address will not be published.