Mahua Live Nalanda:उप विकास आयुक्त वैभव श्रीवास्तव ने किया पोषण परामर्श केंद्र का उद्घाटन।

कुपोषण के खिलाफ जनांदोलन शुरू

सदर अस्पताल में परामर्श केंद्र का हुआ उदघाटन

स्थानीय भोजन को बनाया जाएगा सुपोषण का आधार

Mahua Live Nalanda:सुपोषण को बढ़ावा देकर कुपोषण संबंधी चुनौतियों से निजात पाने के उद्देश्य से जिले में 30 सितंबर तक राष्ट्रीय पोषण माह का आयोजन किया जा रहा है। इसी कड़ी में बुधवार 8 सितंबर को सदर अस्पताल के प्रांगण में पोषण परामर्श केंद्र का उद्घाटन उप विकास आयुक्त वैभव श्रीवास्तव द्वारा दीप प्रज्ज्वलन के साथ रिबन काट कर किया गया।

इसके साथ ही पोषण के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए जिला स्तरीय पोषण रैली को भी हरी झंडी दिखा कर रवाना किया गया।

इस अवसर पर जिला कार्यक्रम पदाधिकारी रीना कुमारी , सिविल सर्जन डॉ. सुनील कुमार, प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के जिला समन्वयक राजीव कुमार और सहायक पुजा कुमारी, राष्ट्रीय पोषण मिशन के जिला समन्वयक प्रभात कुमार,डीपीएम जीविका उमा शंकर भगत, सभी प्रखण्डों के सीडीपीओ, कुछ सेविकाएं और लाभार्थी मौजूद थे।


कुपोषण दूर करने का लिया संकल्प
पोषण रैली को रवाना करते हुये जिला कार्यक्रम पदाधिकारी संग सभी सीडीपीओ और सेविकाओं द्वारा हम होंगे कामयाब गीत गाते हुये जिले को कुपोषण मुक्त बनाने का संकल्प लिया गया। साथ ही सेविकाओं द्वारा पौष्टिक लड्डु बनाने के तरीके, पोषण वाटिका के महत्व और रंगोली के जरिये कुपोषण से पोषण की ओर बढ्ने का संदेश भी दिया गया।
“कुपोषण छोड़ पोषण की ओर, थामें स्थानीय भोजन की डोर” थीम के अंतर्गत विभिन्न गतिविधियों का होगा आयोजन:
डीपीओ रीना कुमारी ने बताया, इस वर्ष “कुपोषण छोड़ पोषण की ओर, थामें स्थानीय भोजन की डोर” की थीम पर पोषण माह आयोजित किया गया है। जिसके अंतर्गत हर सप्ताह चार अलग-अलग थीम निर्धारित किए गए हैं। जिसमें पहला थीम 1से 7 सितम्बर तक पोषण हेतु वृक्षारोपण अभियान (पोषण वाटिका), दूसरा थीम 8से15 सितम्बर तक पोषण के लिए योगा और आयुष, तीसरा थीम 16से22 सितम्बर तक आंगनवाड़ी केंद्र पर पंजीकृत लाभार्थियों को स्थानीय पोषण किट का वितरण एवं चौथे थीम 23से30 तक में अति कुपोषित बच्चों की पहचान तथा उनके मध्य पौष्टिक भोजन का वितरण का कार्यक्रम आयोजित किया जाना है। अभियान के तहत जिले के आंगनबाड़ी केंद्रों के पोषण क्षेत्र में रैली, प्रभात फेरी व बैनर पोस्टर के माध्यम से लाभुकों व आमजनों को जागरूक किया जा रहा है।
विभिन्न विभागों का लिया जायेगा सहयोग:
डीपीओ ने बताया विभागीय निर्देशों का अनुपालन करते हुये इस पूरे माह पोषण गतिविधियों के सफल संचालन के लिए शिक्षा, कृषि, योजना, कल्याण, पी.एच.ई.डी, पंचायती राज एवं सहयोगी संस्थानों का पूरा सहयोग लिया जा रहा है। साथ ही जन आन्दोलन डैशबोर्ड पर आयोजित होने वाले विभिन्न कार्यक्रमों का डाटा नियमित रूप से अपलोड करना है.
कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए गतिविधियाँ होंगी संचालित:
सम्पूर्ण पोषण माह के दौरान सभी आयोजित की जाने वाली गतिविधियों का संचालन कोरोना गाइड लाइन का पालन करते हुए किया जाएगा। आयोजित होने वाले कार्यक्रमों में शारीरिक दूरी, स्वच्छता का ध्यान और मास्क का उपयोग करना होगा और साथ ही लाभुकों को कोविड सुरक्षा मानकों का पालन करने हेतु प्रोत्साहित करना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.