पुरूष नसबंदी की संख्या बढ़ाने पर हुई चर्चा


-जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाड़ा को लेकर अभिसार समिति की बैठक आयोजित 

सीतामढ़ी। 25 नवंबर

जिले में जनसंख्या पर नियंत्रण के लिए मिशन परिवार विकास अभियान चलाया जा रहा है। इसी कड़ी में जिले में जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाड़ा को लेकर अभिसार समिति की बैठक आयोजित की गई। ज्ञात हो कि जिले भर में 22 नवंबर से 4 दिसंबर तक जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाड़ा आयोजित किया जा रहा है। जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाड़ा को सफल बनाने और पुरूष नसबंदी की संख्या बढ़ाने पर चर्चा की गई। परिवार कल्याण के नोडल अधिकारी डॉ. सुनील कुमार सिन्हा ने बताया कि सभी सर्जन एवं जिले में कार्यरत एनजीओ ज्यादा से ज्यादा बंध्याकरण में सहयोग करें। सभी प्रभारी एवं बीसीएम अपने संस्थान अंतर्गत ज्यादा-से ज्यादा महिला बंध्याकरण और पुरूष नसबंदी कराएं। 

पुरुष भी आगे आयें और जिम्मेदारी निभायें:

सिविल सर्जन डॉ. सुरेश चंद्र लाल ने कहा कि सामान्य तौर जब भी किसी परिवार के परिवार नियोजन संबंधी जिम्मेदारियों को निभाने की बात आती है तो इसके लिए परिवार के केवल महिला सदस्य को ही जिम्मेदारी निभाने के लिए कहा जाता है। यह गलत है। एक नियोजित परिवार की जिम्मेदारी उस परिवार के पुरुष सदस्य भी उठा सकते हैं। पुरुष नसबंदी  इसका सबसे आसान और कारगर तरीका है। पुरुष नसबंदी  में उपयोग की जाने वाली शल्य प्रक्रिया महिलाओं के बंध्याकरण   की शल्य क्रिया  की तुलना काफी सरल और आसान है। इसलिए छोटा और सुखी परिवार के सूत्र  को धरातल पर लाने के लिए पुरुषों को भी चाहिए कि वे नसबंदी  के लिए आगे आयें और अपनी जिम्मेदारी  निभायें।

स्वास्थ्य विभाग में योगदान के लिए हुए सम्मानित:

परिवार कल्याण कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डॉ सुनील कुमार सिन्हा को स्वास्थ्य विभाग में उनके दिये गए योगदान के लिए प्रशस्ति पत्र और मेडल देकर सम्मानित किया गया। उल्लेखनीय है कि वे विगत वर्षों में सर्वाधिक ऑपरेशन करने के लिए सम्मानित होते आ रहे हैं। इस वर्ष अभी तक वे 1671 ऑपरेशन कर चुके हैं। वर्ष 2020 में भी डॉ सुनील ने परिवार नियोजन से संबंधित 1780 ऑपरेशन किए थे। उन्होंने यह उपलब्धि कोविड काल के बावजूद हासिल की। इस दौरान वे खुद कोविड से संक्रमित भी हो गए। इस उपलब्धि के लिए वे क्षेत्रीय अपर निदेशक (स्वास्थ्य सेवाएं)  से सम्मानित हुए। वहीं 2021 में उन्होंने 2107 ऑपरेशन किये। खुशहाल परिवार के लिए परिवार नियोजन के साधन अपनाने की जरूरत है। ऐसे में महिलाएं और पुरूष अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र जाकर परिवार नियोजन के साधन चुन सकते हैं।

The post पुरूष नसबंदी की संख्या बढ़ाने पर हुई चर्चा appeared first on IDEACITI NEWS NETWORK.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *