Mahua Live Nalanda:नालंदा फुटपाथ दुकानदार अधिकार मंच ने आक्रोश पूर्ण रैली निकाला

Mahua Live Nalanda: नालंदा फुटपाथ दुकानदार अधिकार मंच के द्वारा अंतरराष्ट्रीय पर्यटन स्थल राजगीर में टीवीसी की नियमित बैठक करने , वेंडिंग जोन का निर्माण करने , एवं नगर परिषद राजगीर के भ्रष्ट निकम्मा कार्यपालक पदाधिकारी ,नगर प्रबंधक के तानाशाही रवैये के खिलाफ नालंदा फुटपाथ दुकानदार अधिकार मंच ने एक विशाल आक्रोश पूर्ण रैली निकाली जो की सब्जी मंडी (किला मैदान )से बस स्टैंड ,धुर्वा मोड ,जेपी चौक से विरायतन होते हुए नगर परिषद राजगीर कार्यालय के समक्ष पहुंचकर सभा में तब्दील हो गई।

धरना का नेतृत्व करते हुए बिहार प्रदेश असंगठित कामगार कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सह मंच के संयोजक डॉ अमित कुमार पासवान ने कहा कि फुटपाथ दुकानदारों के हित में बनाए गए पथ विक्रेता कानून अधिनियम 2014 को लगभग 7 साल बीत जाने के बाद भी नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी ,नगर प्रबंधक ने अंतरराष्ट्रीय पर्यटन स्थल राजगीर के फुटपाथ दुकानदारों को पुर्नवासित करने का काम नहीं किया । जबकि पथ विक्रेता कानून अधिनियम 2014 के तहत सुप्रीम कोर्ट ने आदेश जारी कर कहा है कि किसी भी दुकान को हटाने के पहले एक महीना पूर्व नोटिस देने ,वैकल्पिक व्यवस्था कर पुर्नवासित करने, टीवीसी की नियमित बैठक करने, पहचान पत्र, प्रमाण पत्र, बीमा करने, आदि का प्रावधान है लेकिन आज तक भ्रष्ट व निकम्मे अधिकारियों ने मांगों को पूरा करने के बजाए बीआईपी के आगमन के नाम पर बिना कोई सूचना के बुलडोजर चलाकर दुकानदारों को लाखों रुपया का सामान नष्ट करने का काम कर सुप्रीम कोर्ट के आदेश की अवहेलना करने का काम कर रहे हैं जिसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।


मंच के संरक्षक समाजवादी नेता उमराव प्रसाद निर्मल ने कहा कि मंच के द्वारा राजगीर के सर्वांगीण विकास के लिए माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ,उपमुख्यमंत्री श्री तार किशोर प्रसाद ,पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ,पूर्व मंत्री प्रेम कुमार ,पूर्व मंत्री तेजप्रताप यादव, जैसे दर्जनों मंत्री विधायको को राजगीर की ऐतिहासिकता को देखते हुए इसकी सौंदर्यीकरण एवं वेंडिंग जोन बनाने आदि मांगो को लेकर लेकर लिखित आवेदन दिया गया है ,लेकिन किसी भी तरह की कार्रवाई अभी तक नहीं हुई । उन्होंने कहा कि यहां के आलाअधिकारियों व जनप्रतिनिधियों ,मंत्रियों को कुछ दलाल ,बिचौलियों के द्वारा दिग्भ्रमित कर दिया जाता है जिसका कारण है राजगीर का सर्वांगीण विकास पूर्ण रूप से नहीं हो पा रहा है
मंच के राजगीर के अध्यक्ष गोपाल भदानी ने कहा कि पथ विक्रेता कानून अधिनियम 2014 के आलोक में सुप्रीम कोर्ट के तहत दिए गए आदेश को नगर परिषद के अधिकारियों के द्वारा कानून का पालन नहीं किया गया तो संगठन की ओर से अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज की जाएगी। मंच के महासचिव रमेश कुमार पान ने कहा कि गरीबों , शोषितों , पीड़ितो , फुटपाथ दुकानदारों के ऊपर किसी भी तरह की प्रशासनिक कार्रवाई की जाएगी तो संगठन के द्वारा चरणबद्ध तरीके से आंदोलन होगी ।
प्रदर्शन में मनोज यादव ,राजू कुमार ,नागेंद्र यादव ,नंदकिशोर प्रसाद, विजय यादव ,शंकर कुमार ,अजय कुमार, मदन बनारसी, मनोज साहू ,सरोज देवी, राघो देवी ,मंजू देवी, भूषण राजवंशी, सुनील कुमार ,धर्मेंद्र कुमार ,सुरेंद्र चौधरी ,कृष्णा गुप्ता, विपिन यादव, उमा प्रसाद, मोहम्मद मुस्तकीम, आदि सैकड़ों लोग मौजूद थे।

रिपोर्ट: राकेश वर्मा 9334382726

Leave a Reply

Your email address will not be published.