जिले के कृषि समन्वयक काबेमियादी हड़ताल जारी


नालंदा : लंबित मांगें पूरी नहीं होने से नाराज कृषि समन्वयक अब आरपार की लड़ाई लड़ने का एलान कर दिया। है। सोमवार से जिले के सभी 94 समन्वयक बेमियादी हड़ताल पर आ गए हैं। इसके कारण कृषि विभाग द्वारा चलाये जा रहे कई कार्यों पर प्रतिकुल असर पड़ेगा। डीजल अनुदान के आवेदनों का सत्यापन नहीं होगा। खरीफ आच्छादान की रिपोर्ट विहार एप पर अपडेट नहीं हो सकेगी। इतना ही नहीं पीएम किसान के नये आवेदनों की जांच भी प्रभावित हो जाएगी। जिला कृषि समन्वयक संघ के पदाधिकारियों ने बताया कि अन्य विभागों के कर्मियों का पेग्रेड बढ़ा दिया गया है। लेकिन, कृषि समन्वयकों के साथ भेदभाव की जा रही है। विभाग का सारा काम ऑनलाइन होता है। बावजूद, टैब या लैपटॉप नहीं दिया गया है। तीन साल पहले मोबाइल के लिए राशि मिली थी। उसके बाद कोई खोज खबर नहीं ली जा रही है। आवेदनों का सत्यापन करना हो या योजनाओं को किसानों तक पहुंचाने का, गांव- गांव जाना पड़ता है। लेकिन, न बाइक दी गयी है और न हीं पेट्रोल का खर्च ही मिलता है। संघ के महासचिव राजीव रंजन कुमार, उपाध्यक्ष सुबोध कुमार निराला, संजीव कुमार, कोषाध्यक्ष मुरारी मनोहर व अन्य सदस्यों ने कहा कि जबतक मांगें पूरी नहीं होगी।

The post जिले के कृषि समन्वयक का<br>बेमियादी हड़ताल जारी appeared first on IDEACITI NEWS NETWORK.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *