नई शिक्षा नीति 2020 विश्वविद्यालयों-महाविद्यालयों के शैक्षणिक माहौल को गर्त में भेजने की नीति है:अमीन हमजा


बेगूसराय :विश्वविद्यालय-महाविद्यालय का शैक्षणिक माहौल दिन ब दिन गिरता जा रहा है और इधर नई शिक्षा नीति 2020 को सरकार लागू करके विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों के शैक्षणिक माहौल को और गर्त में भेजने की स्थिति पैदा कर दिया है।इसके खिलाफ ऑल इंडिया स्टूडेंट्स फेडरेशन बिहार और देशभर में विभिन्न तरह के कार्यक्रम चला रहे हैं। उपर्युक्त बातें ऑल इंडिया स्टूडेंट्स फेडरेशन के द्वारा जी डी कॉलेज प्राचार्य का रोषपूर्ण घेराव कर रहे छात्रों को संबोधित करते हुए एआईएसएफ के प्रदेश अध्यक्ष अमीन हमजा ने कहा। उन्होंने कहा कि गणेश दत्त महाविद्यालय पूरे बिहार में अपना एक अलग पहचान रखती है जिसका वर्तमान समय में दिन-ब-दिन प्रतिष्ठा गिरती जा रही है। जिसे हमारा संगठन कभी बर्दाश्त नहीं करेगा हमारा संगठन महाविद्यालय प्रशासन से मांग करता है कि महाविद्यालय में नियमित वर्ग संचालन शुरू करा कर शैक्षणिक माहौल कायम करें नहीं तो आने वाले दिनों में हमारा संगठन महाविद्यालय प्रशासन के खिलाफ और भी उग्र आंदोलन करने को बाध्य होगा जिसकी जवाबदेही महाविद्यालय प्रशासन की होगी। जिला अध्यक्ष अमरेश कुमार ने कहा कि प्राचार्य महोदय कॉलेज प्रशासक से कम ठेकेदारों की ज्यादा सुनते हैं और ठेकेदारों के इशारे पर महाविद्यालय को चलाना चाहते हैं जिसे हमारा संगठन किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं करेगा जी डी कॉलेज की अपनी एक गरिमा है जो वर्तमान प्राचार्य से दिन-ब-दिन धूमिल होती जा रही है, प्राचार्य अपने रवैया में सुधार लाएं नहीं तो आने वाले दिनों में कुछ भी घटना कॉलेज में घट सकती है।
ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के संयोजक किशोर कुमार और आंदोलन का समर्थन कर रहे एआईवाईएफ के जिला सह संयोजक मुकेश कुमार ने कहा कि महाविद्यालय में पढ़ाई के बदले लूट-खसोट, दलालों और सामाजिक तत्व का अड्डा बन कर रह गया है जिसे बचाने के लिए तमाम छात्रों को एकत्रित होकर लड़ाई लड़ना पड़ेगा।

ज्ञात हो कि पूर्व नियोजित कार्यक्रम के तहत आज दिनांक 24 जुलाई 2020 को ऑल इंडिया स्टूडेंट्स फेडरेशन जीडी कॉलेज इकाई के बैनर तले नियमित वर्ग संचालन कर कोर्स पूरा करने की गारंटी,यूजी पीजी के छात्रों को राज्य सरकार के आलोक में मुफ्त में शिक्षा दिया जाए, जिस मद की फीस उस मत में खर्चा सुनिश्चित किया जाए, महाविद्यालय को दलालों और असामाजिक तत्वों से मुक्त किया जाए, सहित विभिन्न सवालों को लेकर कॉलेज प्राचार्य प्रोफेसर राम अवधेश का रोष पूर्ण घेराव किया गया।
इससे पहले छात्रों का क्रांतिकारी जत्था पटेल चौक स्थित जिला कार्यालय से जुलूस की शक्ल में भ्रष्ट प्रिंसिपल होश में आओ, नामांकन में हुए धांधली पर रोक लगाओ, कॉलेज को दलालों असामाजिक तत्वों से मुक्त करो सहित विभिन्न गगनभेदी नारे लगाते हुए कॉलेज पहुंचा, कॉलेज भ्रमण करते हुए प्राचार्य कक्ष के पास पहुंच कर आक्रोशित छात्र छात्राओं ने कॉलेज में तोड़फोड़ शुरू कर दिया। नेताओं ने स्थिति को संभालते हुए आक्रोशित छात्रों को सभा में तब्दील कर दिया जिस सभा की अध्यक्षता कॉलेज इकाई अध्यक्ष अनंत कुमार कर रहे थे।कार्यक्रम के मौके पर एआईएसएफ के जिला सचिव पिंटू कुमार, विवेक कुमार,राज्य परिषद सदस्य,शमा प्रवीण,जिला कार्यकारिणी सदस्य सत्यम कुमार,बसंत कुमार,विपिन कुमार,महिला कॉलेज नेत्री तान्या कुमारी,नग्मी,प्रवीण,फरहीन,राजीव,सनी,गुड्डी, निशा कुमारी,रितु,सोनी, पूनम, भोला, अंकित, अफरोज, गौरव, आर्यन,मिथिलेश इत्यादि थे।

The post नई शिक्षा नीति 2020 विश्वविद्यालयों-महाविद्यालयों के शैक्षणिक माहौल को गर्त में भेजने की नीति है:अमीन हमजा appeared first on IDEACITI NEWS NETWORK.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *