Mahua Live Nalanda: सिविल सर्जन ने किया पोलियो अभियान का शुभारंभ

बिहारशरीफ(नालंदा)। जिले में आज से पल्स पोलियो टीकाकरण अभियान की शुरूआत की गई। 3 मार्च तक चलने वाले इस पांच दिवसीय अभियान में 0 से 5 साल तक शत-प्रतिशत बच्चों को दवा पिलाने का लक्ष्य निर्धारित है। अभियान की शुरुआत सिविल सर्जन डा सुनील कुमार ने बच्चों को सदर अस्पताल परिसर से पोलियो ड्रॉप पिलाकर की। इस अवसर पर जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. राजेंद्र चौधरी तथा अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहे। सिविल सर्जन ने बताया अभियान को लेकर जिला स्वास्थ्य समिति ने सभी आवश्यक तैयारियां पूरी कर ली है। पहले से ही सर्वे कर लिया गया है ताकि एक भी बच्चा दवा पीने से ना छूटने पाये। माइक्रो प्लान बनाकर टिम का चयन लिया गया है और पोलियो कार्यकर्ताओं एवं पर्यवेक्षकों का प्रशिक्षण प्रदान किया जा चुका है। साथ ही साथ सभी प्रखंडों में ब्लॉक लेवल टीम की भी बैठक की जा चुकी है। इस अभियान में यूनिसेफ के साथ-साथ डब्ल्यूएचओ एवं केयर इंडिया की टीम भी अहम भूमिका निभाएगी।करीब 5.5 लाख बच्चो को पिलाई जाएगी दवा जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. राजेंद्र चौधरी ने बताया इस पाँच दिवसीय अभियान के दौरान नालंदा जिले में कुल 6 लाख 4 हज़ार 361 घरों को लक्षित किया गया है, जिसमें करीब 5 लाख 47 हज़ार बच्चों को दवा पिलाने के लिए लक्षित किया गया है। अभियान के सफल संचालन के लिए जिले में कुल 1722 टिम का गठन किया गया है, जिनमें 1468 हाउस टू हाउस टीम बनाई गई है। जबकि 185 ट्रांजिट टीम, 21 मोबाइल टीम, 47 वन मैन टीम व 544सुपरवाइजर हैं। बस व रेलवे स्टेशन पर टीकाकर्मी रहेंगे तैनात: पल्स पोलियो कार्यक्रम अभियान के जरिये पोलियो को जड़ से मिटाने के उद्देश्य को पूरा करने के लिए और अधिक से अधिक बच्चों को इस अभियान से जोड़ने के लिये शहर व गांव के व्यस्त चौक-चौराहे, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन सहित भीड़-भाड़ वाले अन्य जगहों पर टीकाकरण दल की प्रतिनियुक्ति की गयी है। जो बाहर से आने-जाने वाले बच्चों को दवा पिलाने का काम करेगी। टीकाकरण अभियान का संचालन जिले के सभी प्रखंडों में किया जायेगा। तथा अभियान के दौरान हर दिन वर्किंग टीम द्वारा सभी पीएचसी में अपनी रिपोर्ट उपलब्ध करायी जाएगी। पीएचसी के माध्यम से रिपोर्ट जिला मुख्यालय को उपलब्ध करायी जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.