Mahua Live Nalanda: राजगीर के अजातशत्रु किला मैदान में सांकेतिक पतंग उत्सव का आयोजन

बिहार शरीफ ( नालंदा)।अजातशत्रु किला मैदान परिसर में मकर संक्रांति के शुभ अवसर पर संकेतिक पतंग उत्सव का आयोजन किया गया। बताते चलें कि इस पतंग उत्सव का शुरुआत निवर्तमान अनुमंडल पदाधिकारी रचना पाटिल एवं जागरूकता अभियान के निदेशक डॉ धर्मेंद्र कुमार के द्वारा 2014 में किया गया था। इस मौके पर अखिल भारतीय तीर्थ पुरोहित महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. धीरेंद्र उपाध्याय ने कहा कि मकर संक्रांति के समय नदियों में वाष्पीकरण क्रिया होती है। इससे तमाम तरह के रोग दूर हो सकते हैं। इसलिए इस दिन नदियों में स्नान करने का महत्व बहुत है। ताजी हवा खाने के उदेश्य से लोग अपने घरों के छत पर या मैदानों में पतंगबाजी भी करते हैं।मौके पर जागरूकता अभियान के समन्वयक रमेश कुमार पान ने कहा कि आज के बच्चे सिर्फ मोबाइल में गेम खेलने में लगे हुए रहते हैं जिसके कारण उनका भौतिक विकास नहीं हो पाता है इसलिए प्राकृतिक प्रदत परम्परागत खेलों का लुफ्त लेना ही चाहिए । पतंगबाजी करने से हाथ पैर शरीर का व्यायाम होता है। पतंग को आकाश में उड़ाते जरूर है लेकिन पंछियों का ख्याल रखते हुए सिर्फ सादे धागे का इस्तेमाल करें । मौके पर पुरातत्व विभाग के संजय कुमार ने भी पतंग उत्सव में अपनी सहभागिता दिखाइ। कोरोनावायरस को देखते हुए इस आयोजन को सांकेतिक रूप में किया गया है। इस अवसर पर बिट्टू कुमार, समाजसेवी सुनील कुमार के अलावे बच्चे भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.