Maahua Live Nalanda: उदयीमान भगवान भास्कर को अर्ध्य के साथ आस्था का महापर्व छठ सम्पन्न।

Mahua Live Nalanda:लोक आस्था के महापर्व छठ पूजा का समापन गुरुवार को उदयीमान भगवान भास्कर को अर्घ्य देने के साथ हो गया। जिले भर में बुधवार को अस्ताचलगामी सूर्य को पूरे उत्साह और श्रद्धा के साथ पहला अर्घ्य दिया गया। दउरा व सुपली में फल व पूजन सामग्री सजाकर व्रती महिलाएं घाट पर पहुंची और भगवान भास्कर की उपासना किया।

चार दिवसीय छठ पर्व के अंतिम दिन गुरुवार की सुबह उगते सूर्य को अर्घ्य देकर इसका समापन हुआ। छठ महापर्व पर सैकड़ों व्रतधारी महिला पुरुष व बच्चो के साथ छठ मईया के गीत गाते हुए छठ घाट पर पहुंचे। उनका उत्साह एवं श्रद्धा देखते ही बन रहा था। शहर के पंचाने नदी स्थित कोसूक,बियाबानी ,सूर्य मंदिर आशानगर सहित जिले के विभिन्न प्रखंडों में स्थित नदियों एवं घाटों पर घाटो पर सूर्यास्त और उगते सूरज को देखकर व्रतियों ने अर्घ्य दिया। शहर के मोरा तलाव, आशानगर सूर्य मंदिर, बसार बीघा, इमादपुर, बाबा मणिराम अखाड़ा,कोसूक, बियाबानी, मघड़ा, धनेश्वर घाट, महल पर, पटेल नगर सहित अन्य घाटों पर लोगों ने उगते हुए सूरज को अर्घ्य दिया।


छठ पूजा को लेकर छठ पूजा समिति एवं नगर निगम के द्वारा घाटों पर ट्यूब लाइट की सजावट की गई थी। छठ पर्व में भाग ले रहे श्रद्धालुओं के लिए जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन के द्वारा घाटों पर सुरक्षा के समुचित प्रबंध किया गया था। शहर के पंचाने नदी से जुड़े अधिक गहराई वाले घाटों पर जिला प्रशासन के द्वारा मोटरबोट की व्यवस्था की गई थी एवं अन्य छठ पूजा समिति के सदस्यों को यह निर्देश दिया गया था कि वे अपने अस्तर से भी तैराक का व्यवस्था रखेंगे ताकि किसी भी अनहोनी से बचा जा सके। पुलिस प्रशासन द्वारा एनएच को क्रॉस कर जाने वाले घाटों पर पुलिस बल की तैनाती की गई थी। जिले के अधिकांश घाटों पर समुचित लाइट की व्यवस्था के अलावे सभी घाटों को आकर्षक रूप से सजाया गया था। वही छठ वर्ती श्रद्धालु माताओं के लिए घाटों पर चेंजिंग रूम भी बनाया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.