Mahua Live Nalanda: नालंदा विश्वविद्यालय उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू का स्वागत के लिए तैयार ।

Mahua Live Nalanda: उपराष्ट्रपति “कोविड उपरांत विश्व व्यवस्था के निर्माण में धर्म-धम्म परंपराएं” विषय पर आधारित छठे अंतर्राष्ट्रीय धर्म-धम्म सम्मेलन का उद्घाटन करेंगे। इस भव्य समारोह में बिहार के राज्यपाल और मुख्यमंत्री के साथ-साथ श्रीलंका के एक मंत्री की भी गरिमामयी उपस्थिति रहेगी। विश्वविद्यालय द्वारा जारी एक बयान में कुलपति प्रो. सुनैना सिंह ने इस सम्मेलन के बारे में जानकारी दी। उन्होने कहा कि इस सम्मेलन का उद्घाटन भारत के उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू करेंगे। इस अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में विभिन्न देशों के दो सौ से अधिक प्रतिनिधि, गणमान्य व्यक्ति और काफी संख्या में विद्वान हिस्सा लेंगे। उन्होंने ये भी कहा कि यह सम्मेलन शिक्षा जगत के श्रेष्ठ बुद्धिजीवियों, प्रमुख राजनेताओं, और भारत तथा विदेशों के धार्मिक राजनेताओं को एक साझा मंच प्रदान करेगा। सम्मेन में कोविड के बाद की विश्व व्यवस्था के निर्माण की नई संभावनाओं पर विचार-विमर्श होगा।
इंडिया फाउंडेशन के सहयोग से आयोजित यह तीन दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन 7 से 9 नवंबर 2021 तक चलेगा। धर्म-धम्म परंपराएं लोगों की जीवन शैली सुधारने और महामारी के विनाशकारी प्रभाव से उबरने में अहम भूमिका निभा सकती है। यह सम्मेलन मानव और प्रकृति के सामंजस्यपूर्ण सह-अस्तित्व को ध्यान में रखते हुए कोविड उपरांत की खुशहाल और स्वस्थ दुनिया बनाने में बड़ी भूमिका निभाएगा और इसके लिए आध्यात्मिक मूल्यों पर आधारित नए विचारों को साझा करने की संभावना पैदा करेगा। इस सम्मेलन का मुख्य उद्देश्य इन विषयों के साथ-साथ स्वास्थ्य, मानव कल्याण, जलवायु परिवर्तन और सामाजिक सद्भाव से संबंधित अन्य विषयों पर भी विचार-विमर्श करना और धर्म-धम्म परम्पराओं दिखाए गए मार्गों के महत्त्व प्रदर्शित करना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.