Mahua Live Nalanda: छठ पर्व को लेकर बड़गांव तलाव किनारे बनाया जा रहा मिट्टी का चूल्हा।

Mahua Live Nalanda: आस्था का महापर्व छठ को लेकर नालंदा के ऐतिहासिक छठ घाट बड़गांव तालाब के किनारे महिलाएं मिट्टी का चूल्हा बनाने के कार्य में जुट गए हैं। मिट्टी के चूल्हा बनाने के कार्य में जुटी महिलाओं ने बताया कि ऐतिहासिक छठ घाट बड़गांव में देश के कोने कोने से आने वाले छठ वर्ती माताओं को ज्यादा कष्ट ना हो इसलिए हम लोग पहले से ही मिट्टी का चूल्हा बनाना शुरू कर चुके हैं।

उन्होंने बताया कि छठ पूजा का प्रसाद मिट्टी के चूल्हे पर बनाया जाता है। ऐसा माना जाता है कि छठ पूजा में पवित्रता का सबसे अधिक ध्यान रखा जाता है इसलिए जिस चूल्हे पर पहले से खाना बना हुआ है उसका प्रयोग छठ का प्रसाद बनाने में नहीं किया जाता है। इसलिए छठ पूजा का प्रसाद बनाने में मिट्टी का चूल्हा का ही उपयोग किया जाता है। छठवर्ती माताओं का ऐसा मानना है कि छठ पर्व के दूसरे दिन खरना का प्रसाद बनाने के लिए मिट्टी के चूल्हे पर आम के लकड़ी के जलावन का उपयोग कर चावल ,दूध और गुड़ मिलाकर खीर बनाया जाता है। ऐसा माना जाता है कि चावल और दूध चंद्रमा तथा गुड सूर्य का प्रतीक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.