Mahua Live Nalanda: सामाजिक और सांस्कृतिक परिवर्तन के लिए शैक्षिक प्रशिक्षण अतिआवश्यक: डॉ. परमहंस

आदर्श विद्यालय में नालंदा कॉलेज के प्रशिक्षुओं का स्कूल इंटर्नशिप कार्यक्रम का समापन।

Mahua Live Nalanda:- शिक्षक समाज की रीढ़ होती है। शिक्षक समाज के निर्माण एवं प्रलय का सूचक होता है। सामाजिक और सांस्कृतिक परिवर्तन के लिए शैक्षणिक प्रशिक्षण अतिआवश्यक है। उपर्युक्त बातें नालंदा कॉलेज के प्राचार्य डॉ. रामकृष्ण परमहंस ने शहर के प्रतिष्ठित आदर्श विद्यालय में नालन्दा कॉलेज के प्रशिक्षुओं के स्कूल इंटर्नशिप कार्यक्रम के समापन के मौके पर कही। उन्होंने कहा कि परिवर्तन के इस दौर में विद्यार्थियों को एक शिक्षक ही सार्थक एवं व्यवहारिक ज्ञान अर्जित करा सकता है। जरूरत है समाज मे शिक्षक के सम्मान एवं प्रतिष्ठा को संरक्षित करते हुए अपने कर्तव्य का निर्वहन किया जाय।
इस अवसर पर नालंदा कॉलेज के सहायक प्राध्यापक डॉ. राजेश कुमार ने कहा कि स्कूल इंटर्नशिप द्वारा बी. एड. प्रशिक्षुओं को व्यवहारिक ज्ञान प्रदान किया जाता है। इसके द्वारा एक शिक्षक न केवल अपने शैक्षिक कर्तव्यों का बखुबी निर्वहन करता है, बल्कि समाज को नई दिशा प्रदान कर सकता है। विद्यालय में प्रतिनियुक्त बी. एड. प्रशिक्षुओ के पर्यवेक्षक डॉ. रंजन कुमार ने कहा कि इस विद्यालय में बी. एड. प्रशिक्षुओ के स्कूल इंटर्नशिप के लिए उपलब्ध संसाधन उत्तम है और प्रशिक्षुओं को शैक्षिक व्यवहार का ज्ञान करने में सक्षम हैं। इन्होंने विद्यालय परिवार को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि बेहतर शिक्षक ही बेहतर भविष्य का निर्माण करते हैं।


इस कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए विद्यालय के वरिष्ठ अध्यापक श्री अश्विनी कुमार ने कहा कि नालंदा कॉलेज के प्रशिक्षुओ में एक शिक्षक बनने की सम्पूर्ण कलात्मकता है। शिक्षक वो कलाकार है जो कुम्हार की तरह बच्चों का भविष्य गढ़ता है।
इस मौके पर प्रशिक्षुओ द्वारा प्रशिक्षण के दौरान आयोजित की गई सांस्कृतिक प्रतियोगिता में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले विद्यार्थियों को सम्मानित भी किया गया। कार्यक्रम को सफल बनाने में प्रशिक्षु नंदिनी भारती, दीक्षा, स्वेता, मधुरंजन, पूजा, अर्चना, निशात बनो, अंकित, जितेंद्र, प्रिया आदि ने महती भूमिका निभाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.