Mahua Live Nalanda: संयुक्त राष्ट्र दिवस के अवसर पर नालन्दा कॉलेज में वेबिनार आयोजित:

Mahua Live Nalanda:-संयुक्त राष्ट्र की स्थापना के अवसर पर हर साल 24 अक्टूबर को संयुक्त राष्ट्र दिवस मनाया जाता है इसी क्रम में नालन्दा कॉलेज के राजनीति विज्ञान विभाग ने भी रविवार को ऑनलाइन परिचर्चा का आयोजन किया। अफगानिस्तान संकट और संयुक्त राष्ट्र की शांति प्रयास में भूमिका विषय पर आयोजित इस वेबिनार में मुख्य वक्ता के तौर पर दिल्ली विश्वविद्यालय के डॉ अमित सिंह तथा जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के डॉ स्नेहा ने अपने विचार रखे। कार्यक्रम की शुरुआत विभाग की छात्रा शुभासिनी ने विषय को रखते हुए किया। विभागाध्यक्ष डॉ बिनीत लाल ने कहा की ऐसे समय में जब अफगानिस्तान संकट को सारा विश्व देख रहा है तो संयुक्त राष्ट्र की भूमिका विश्व शांति एवं सुरक्षा को बनाए रखने में और भी महत्वपूर्ण हो जाते हैं। विभाग के शिक्षक डॉ श्रवण कुमार ने सभी वक्ताओं का स्वागत करते हुए कहा की आज के दिन संयुक्त राष्ट्र के कामकाज पर चर्चा परिचर्चा करना आवश्यक है। अध्यक्षीय भाषण करते हुए प्राचार्य डॉ राम कृष्ण परमहंस ने कहा की भारत सहित कुछ देशों को संयुक्त राष्ट्र में प्रभावी भूमिका निभानी होगी और इसके लिए इसमें संरचनात्मक सुधार करने की आवश्यकता है। मुख्य वक्ता के रूप में सम्बोधित करते हुए डीयू के डॉ अमित सिंह ने कहा की संघर्ष को सीमित करने में संयुक्त राष्ट्र पूरी तरह सफल तो नहीं हो पाया है लेकिन अफ़्रीका, एशिया के बहुत सारे देशों में गृह युद्ध जैसी समस्या के बाद वहाँ शांति सेना भेजकर स्थिति को नियंत्रित करने में ज़रूर सफल रहा है। डॉ सिंह ने कहा की बदलते हुए भू-राजनैतिक परिदृश्य में संयुक्त राष्ट्र को अपनी प्रासंगिकता बनाए रखनी है तो निश्चित रूप से इसमें संरचनात्मक सुधार करने होगें। दूसरे वक्ता ज़ेएनयू की डॉ स्नेहा ने अफगानिस्तान संकट के कारणों के बारे में चर्चा करते हुए कहा की तालिबान ने विश्व के सामने एक आतंकवादी सरकार बनाकर चुनौती पेश की है। एक अंतरराष्ट्रीय संगठन के रूप में संयुक्त राष्ट्र ने अपनी भूमिका का निर्वाह नही किया इसलिए आज इसपर प्रश्न उठ रहे हैं। आदित्य रंजन, शुभसिनी, आशीष कुमार, वृंदावन नाहक, विशाल करुणा, विशाल सिंह, चन्द्रमणि ने विभिन्न विषयों पर वक्ताओं से अनेकों सवाल किया जिसका उत्तर भी विस्तार से दिया गया। अंत में कार्यक्रम का धन्यवाद ज्ञापन छात्र रोहित तिवारी ने किया। वेबिनार में कॉलेज के शिक्षकों, छात्र-छात्राओं के अलावे दूसरे संस्थान के भी छात्रों ने बड़ी संख्या में भागीदारी की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.