Mahua Live Nalanda: डैफोडिल पब्लिक स्कूल में शिक्षकों एवम छात्र छात्राओं के बीच कार्यशाला का आयोजन।

Mahua Live Nalanda:-स्थानीय मंगलास्थान स्थित डैफोडिल पब्लिक स्कूल में शनिवार को शिक्षकों एवम छात्र छात्राओं के बीच कार्यशाला का आयोजन किया गया। इसका मुख्य उद्देश्य पैनडमिक और लॉकडॉन के कारण बच्चों में उत्पन्न हुऐ नकारात्मक विचारों को दूर करना था, इसका आयोजन इंडियानिका लर्निंग प्राइवेट लिमिटेड प्रकाशक के द्वारा किया गया, कार्यशाला में विख्यात शिक्षाविद डॉ अलका झा ने पठन पाठन में संचार तथा वार्तालाप के महत्व पर जोर दिया, छात्र छात्राओं व शिक्षकों के बीच विचारों का आदान प्रदान कर नकारात्मकता को दूर करता है व एकाग्रता को बढ़ाता है।

उन्होने छात्र छात्राओं को तनावरहित एवम अनुशासन के साथ छात्रों को पठन पाठन करने के लिए प्रेरित किया और बताया की समय प्रबंधन सफलता का बड़ा महत्व है, अपने व्याख्यान के दौरान वे सभी छात्र छात्राओं को मधुर और शुद्ध बोलने के लिए प्रेरित किया व शब्दो की शक्ति ही मनुष्य को जोड़ती हैं और तोड़ती भी है इसलिए छात्र छात्राओं को ही नहीं बल्कि अभिभावकों एवम शिक्षकों के बीच भी सरल मधुर व शुद्ध संवाद समय_समय पर होना चाहिए तथा बच्चों को विद्यालय से जुड़ाव, ठहराव एवम सीखने की कला को बताया। विद्यालय के सचिव डॉ रविचंद कुमार ने बताया की इस कार्यशाला का लक्ष्य छात्राओं का स्वतंत्र, रचनात्मक अभिव्यक्ति की क्षमता विकास व स्कूल के प्रति अपनत्व की भावना बढ़ाने के लिए शिक्षकों की क्षमतावर्धन करना है साथ ही साथ बच्चों, शिक्षकों और अभिभावकों के बीच मजबूत संबंध बनाना है, इससे शिक्षकों को एकीकृत रूप से विद्यार्थियों को समझने और उनकी सहायता करने में सक्षम बनाता है। यह एक उत्तरदायी शिक्षण प्रणाली है जो विद्यार्थियों के परिप्रेक्ष्य निर्माण के लिए शिक्षण व्यवस्था के साथ मिलकर काम करती है ताकि बच्चे स्कूल में ठहरे, जुड़े और सीखे। प्राचार्या कुमारी ममता ने कार्यशाला के दौरान बच्चों, शिक्षकों व अभिभावक की बातो को ध्यानपूर्वक सुनना, ज्यादा से ज्यादा विद्यार्थी को बोलने का मौका देना फिर उनकी सकारात्मक बातों को चुनते हुऐ समाधान करना ही कार्यशाला का मुख्य उद्देश्य है। इस कार्यशाला में लगभग तीन सौ छात्र छात्राओं ने अपना विचार आदान प्रदान किया। कार्यशाला को सफल बनाने में उमेश कुमार, खुशबू कुमारी,निरंजन कुमार, अतुल अभिलाष, अन्नू भारती, मरयम परवीन, शबाना, सनोबर, अल्तमस खान,नीतू कुमारी, मोना, मंडल कुमार, पुल्केस पांडे, मनोज सिंह, देव कुमार, राजू पांडे, चंद्रभूषण शर्मा, अमिताभ पाल मिंज अंजना, विजय कुमार अन्य शिक्षकगण तथा छात्र छात्राओं की अहम भूमिका रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published.