आजादी के 75 वे वर्ष पर अमृत महोत्सव मनाएगा डाक विभाग।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत खोलें जायेंगें सुकन्या समृद्धि खाता।

Mahua Live Nalanda:-आजादी 75 साल पूरा होने के बाद भारत सरकार के साथ-साथ भारतीय डाक विभाग भी अमृत महोत्सव मनाने जा रहा है। जिसके लिए डाक विभाग ने अनोखी पहल की शुरुआत किया है। अमृत महोत्सव में बेटियों के लिए कवच साबित होगा। इसके लिए सभी डाक घरों में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के तहत आगामी 12 अक्टूबर को विशेष अभियान के तहत सुकन्या समृद्धि की खाता खोला जाएगा। इसी सिलसिले में नालंदा मंडल के डाक अधीक्षक उदयभान सिंह एवं पश्चिमी अनुमंडल हिलसा के डाक निरीक्षक संतोष कुमार तिवारी ने संयुक्त रुप से मंगलवार को अपने कार्यालय में शाखा डाकघर एवं उप डाकघर के कर्मचारियों के साथ बैठक किया गया।

बैठक में डाक अधीक्षक श्री  सिंह ने कहा कि आज देश की आजादी का 75 साल पूरा हो चुका है। सरकार के साथ- साथ भारतीय डाक विभाग के द्वारा अमृत महोत्सव मनाने जा रही है। इस महोत्सव का उद्देश्य नारी सशक्तिकरण पर विशेष बल दिया जाना है। उन्होंने कहा कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के नारे के तहत डाक विभाग द्वारा बेटियों के लिए सुकन्या समृद्धि योजना खाता एक कवच के रूप में लाया गया है। भारत के सभी डाकघरों में आगामी 11 अक्टूबर को बैकिंग दिवस के साथ साथ बेटियों का सुरक्षा कवच सुकन्या समृद्धि योजना खाता खोला जाएगा। आगामी 12 अक्टूबर को गांवों में प्रवास करने वाले गरीबों के लिए ग्रामीण डाक जीवन बीमा एवं नौकरी करने वाले लोगों के लिए डाक जीवन बीमा का खाता विशेष अभियान के तहत खोला जाएगा। आगामी 14 अक्टूबर व्यवसाय दिवस, 16 अक्टूबर को डाक दिवस एवं 17 अक्टूबर को अच्छे कार्य करने वाले वाले डाक कर्मियों का मनोबल बढ़ाने के लिए प्रशंसा पत्र दिवस मनाया जाएगा। दूसरी ओर पश्चिमी अनुमंडल हिलसा के डाक निरीक्षक संतोष कुमार तिवारी ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार की महत्वकांक्षी योजना एवं डाक विभाग का ग्रामीण डाक जीवन बीमा एवं डाक जीवन बीमा का खाता खोलने के लिए संबंधित डाकघर में जरूर जाएं। इस बैठक में उप डाकघर पोस्ट मास्टर शैलेंद्र यादव, रामप्रवेश प्रसाद, राहुल कुमार, सहायक प्रकाश चंद्र, धीरेंद्र कुमार , राजेश कुमार यादव, शाखा डाकपाल सुशील कुमार, नवनीत कुमार, शशि भूषण कुमार ,विकास कुमार, अखिलेश तिवारी ,शैलेंद्र कुमार, दिलीप कुमार, सुभाष तिवारी ,विश्वजीत कुमार समेत दर्जनों डाक कर्मी शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.