Mahua Live Nalanda: ‘‘हिन्दी किसी से कमजोर नहीं’’ निज भाषा उन्नति अहै सब उन्नति को मूल,,


Mahua Live Nalanda:-बिन निजभाषा ज्ञान के मिटै न हिय को शूल,,‘भारतेंदु’ की इन्हीं पंक्तियों को स्मरण में रखते हुए डैफोडिल पब्लिक स्कूल, मंगलास्थान, बिहार शरीफ में 14 सितंबर को हिन्दी दिवस समरोह दीप प्रजवल्लित कर मनाया गया।

जिसमे कक्षा प्रथम से दसवीं तक के छात्र छात्राओं ने बढ़ चढ़कर भाग लिया। छात्र छात्राओं ने भारतेंदु, महादेवी वर्मा, जयशंकर प्रसाद , सुमित्रानंदन पंत,फणीश्वरनाथ रेणु, सूर्यकांत त्रिपाठी निराला, मैथलीशरण गुप्त, सुभद्रा कुमारी, चौहान, अनामिका जैसे महान कवियों की कविता पढ़ी साथ ही अपनी रचनाओं का भी पाठ किया।इस शुभ अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि किसान कॉलेज के हिंदी विभागाध्यक्ष प्रो. डॉ सुधा कुमारी ने अपने सम्बोधन में हिन्दी भाषा की प्रासंगिकता , महत्व तथा उपयोगिता को स्पष्ट करते हुऐ कहा की हिंदी एक हजार वर्षो की समृद्ध भाषा है जो पूरे हिंदुस्तान को अपने एकता के सूत्र में बांधकर रखती है, यह किसी भी रुप में किसी भी अन्य भाषाओं से कमजोर नहीं है अपितु इसका साहित्य अति समृद्ध और विशाल साहित्य है। इस अवसर पर छात्र छात्राओं ने भाषण तथा काव्य प्रतियोगिता में अपना परचम लहराया एवम सफल प्रतियोगी के बीच पुरस्कार, प्रशस्ति पत्र एवम पौधा देकर सम्मानित किया गया। मंतासा खान, गुड्डू गुप्ता, जानू सिंह, आदित्य भार्गव, प्रिया कुमारी, सौरव, शिवांशु, स्नेहा सिन्हा, राजलक्ष्मी, सेजल प्रकाश, संगम कुमारी, मासूम प्रभाकर, सुप्रिया, रणवीर कुमार, बिट्टू कुमार, सांद्रा कुमारी अमन राज, रितेश राज, सिमरन कुमारी छात्र छात्राओं को विद्यालय के द्वारा पुरस्कार दिया गया इसके साथ साथ चालीस विद्यार्थियों को सांत्वना पुरस्कार के साथ हौसला बढ़ाया गया। कार्यक्रम के परियाजना चेयरमेन रौशन कुमार उपाध्याय ने बताया की हिंदी राष्ट्र बोध, अस्मिता, राष्ट्र निर्माण, भारत बोध की भाषा है, हिंदी राष्ट्रीय संचेतना की भाषा है, इसमें सर्व संग्रहवाद है तथा हजारों वर्षो की लोक साधना की भाषा है। विद्यालय के सचिव डॉ रविचंद कुमार ने कहा की हिंदी हमारी मातृभाषा है। बावजूद हम इसे पूरा सम्मान नही दे पा रहे है, इसे हमे पूरा सम्मान देना होगा, अधिक से अधिक हिंदी भाषा का प्रयोग कर हम इसका मान सम्मान करेंगे। प्राचार्या कुमारी ममता ने बच्चों को बताया की हिंदी बहुत ही प्यारी, मीठी व सांस्कृति सौहार्द से परिपूर्ण भाषा है । अतिथि शिक्षक सोनी गुप्ता ने अपने सम्बोधन में हिन्दी भाषाके संदर्व में कहा की हमे गर्व है की हम हिंदी भाषी है, हम सभी को हिन्दी भाषा बोलनी चाहिए तभी हमारा व इस देश का चहुंमुखी विकास संभव है। इस कार्यक्रम को सफल बनाने में परियोजना उप चेयरमेन नीतू कुमारी, मनोज सिंह, रीना कुमारी, मैनेजर उमेश कुमार नृत्य शिक्षिका वंदना कुमारी , शिल्पा कुमारी संगीत शिक्षक सुब्रतो कुमार, सूबे कुमार निरंजन कुमार, अतुल अभिलाष, मरयम परवीन, अल्तमस खान, शबाना परवीन, देव कुमार विश्वकर्मा, पुल्केश पांडे, मंडल कुमार, अखिलेश प्रसाद, विद्यालय के चेयरमेन रंजीत प्रसाद सिंह, रोटरी के पूर्व अध्यक्ष डॉ शशिभूषण कुमार, अभिभावक संतोष कुमार एवम छात्र छात्राओं की अहम भूमिका रही।

रिपोर्ट:-राकेश वर्मा 9334382726

Leave a Reply

Your email address will not be published.