Mahua Live Nalanda: फोरलेन निर्माण कार्य के दौरान “पेड़ लगाओ जीवन बचाओ”के तहत पेड़ों को किया जा रहा है शिफ्ट।

Mahua Live Nalanda:-अपने स्वार्थ और लालच के लिए लोग पेड़ों की अंधाधुंध कटाई कर, पर्यावरण के साथ जमकर खिलवाड़ कर रहे हैं। पेड़ काटने की वजह से ग्लोबल वार्मिंग विकराल रुप धारण करती जा रही है। इसलिए पेड़ों को बचाने नालंदा जिला के बिहारशरीफ क्षेत्र में बख्तियारपुर रजौली फोरलेन के निर्माण कार्य तेज कर दी गयी है। इस दौरान “पेड़ लगाओ जीवन बचाओ” को ध्यान में रखते हुए हाईवे किनारे से पेड़ों को हटाकर कुछ दूरी पर शिफ्ट करने का काम युद्धस्तर पर किया जा रहा है।

बता दें कि बिहार- झारखंड और बंगाल को जोड़ने बाली बख्तियारपुर- रजौली सड़क को फोरलेन में तब्दील किया जाना है। जिसको लेकर पूर्व में हजारो पेड़ को नष्ट कर दिया गया था। लेकिन अब सड़क किनारे बचे हजारों पेड़ों की तना को काटा जा रहा है। और फिर जेसीबी मशीन के सहारे दूसरे जगह पर गड्ढा खोदकर लगाया जा रहा है।

ताकि दो-चार महीना में ही वह पेड़ फिर से अपने पुराने स्वरूप में आ सके। बतातें चलें कि छोटे-छोटे पौधा रोपने के बाद 4 से 5 साल पेड़ को हरियाली होने में लगती है। जबकि इसे काटकर तना रोपने पर चार से पांच महीने में ही हरियाली का रूप ले लेती है। जिससे ऑक्सीजन मिलने के साथ-साथ पर्यावरण असंतुलित होने से बचती है।

रिपोर्ट:-राकेश वर्मा 9334382726

Leave a Reply

Your email address will not be published.