Mahua Live Nalanda: परिवार नियोजन कार्यक्रमों में बेहतर प्रदर्शन करने वाले कर्मी हुये पुरष्कृत

बिहार शरीफ(नालंदा) । परिवार नियोजन कार्यक्रमों को धरातल पर बेहतर क्र्यांवित करने के लिए स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स की भूमिका और मजबूत योगदान को नजरंदाज नहीं किया जा सकता।यह सम्मान ना सिर्फ उनका हौसला अफजाई करेगा बल्कि हमारे साथी कर्मियों को भी बेहतर प्रदर्शन के लिए प्रेरित करेगा। “ ये बातें जिला सिविल सर्जन डॉ. विजय कुमार सिंह ने सोमवार को सदर अस्पताल स्थित सभागार में कहीं। मौका था परिवार नियोजन कार्यक्रमों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले सभी चिकित्सकों व स्वास्थ्य कर्मियों के पुरस्कार समारोह कार्यक्रम का, जिसका उदघाटन सिविल सर्जन ने किया। । इस अवसर पर जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. राजेन्द्र चौधरी, एनसीडीओ डॉ. राम मोहन सहाय, सदर अस्पताल के सुप्रीटेंडेंट डॉ. रमानन्द, डीडीए उज्जवल कुमार , केयर इंडिया की डॉ. संजय महापात्रा , परिवार नियोजन काउंसिलर रिंकि क़ुमारी समेत कई स्वास्थ्यकर्मी , आशा कार्यकरता औए एएनएम मौजूद थे।
उद्घाटन के बाद डॉ. विजय कुमार ने स्वास्थ्यकर्मियों का उत्साह बढ़ाते हुए कहा कि पुरस्कार मिलने से आपके काम की पहचान होती है, लेकिन संतुष्ट नहीं होना है। काम करने की भूख को और बढ़ाना है और अगले साल और बेहतर करना है। यह आयोजन ही इस बात का प्रमाण है कि आपलोगों ने सालों भर बढ़िया काम किया है। इस उत्साह को बरकरार रखने की जरूरत है। नसबंदी के क्षेत्र में और बेहतर कार्य करने की जरूरत है। क्षेत्र के लोगों को यह सुनिश्चित कराएं कि दो बच्चे के बाद ही लोग आपरेशन करा लें। तीन-चार बच्चे के बाद ऑपरेशन कराने की नौबत नहीं आए। साथ ही पुरस्कार पाने वाले स्वास्थ्यकर्मी अपने सहयोगियों को भी प्रोत्साहित करें। उन्हें अपनी सफलता का मूलमंत्र बताएं। ऐसा करने से स्वास्थ्य सेवा और बेहतर होगी। क्षेत्र के अधिक से अधिक लोगों तक सुविधाएं पहुंचेंगी।
इनलोगों को भी दिया गया पुरस्कारः
समारोह में अस्थावां प्रखण्ड प्रभारी डॉ.अविनाश चन्द्र को महिला बंध्याकारण व पुरुष नसबंदी , डॉ. कुमकुम कुमारी को प्रसवोपरांत बंध्याकारण, डॉ. अंकिता कुमारी को प्रसवोपरांत या गर्भपात के उपरांत बंध्याकारण, डॉ. कंचन कुमारी को आईयूसीडी के क्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन के लिए पुरस्कृत किया गया। जबकि लाभार्थियों के बीच परिवार नियोजन के विभिन्नसाधनों की पहुँच बढ़ाने के लिए एएनएम सारदा कुमारी,नीलम कुमारी, राधा कुमारी , रीना सिंह , वेजेता कुमारी को सम्मानित किया गया । आशा कार्यकर्ताओं सोना कुमारी, ललिता क़ुमरी , चमेली देवी , अनिला कुमारी , तरुणा देवी , पुनीत कुमारी और रेखा सिंह को भी उनके सर्वशेस्थ प्रदर्शन के लिए पुरस्कार मिला।
स्व्छ्च्ता के लिए चंडी को मिला कायाकल्प सम्मान : गुणवत्ता युक्त उत्कृष्ट स्वास्थ्य सेवाओं को समुदाय तक पाहुचने के लिए चंडी प्रखण्ड को कायाकल्प सम्मान से सम्मानित किया गया , जबकि अन्य 6 प्रखण्डों को भी परिवार नियोजन सेवाओं को बेहतर ढंग से धरातल पर पहुँचने के लिए सम्मानित किया गया । इनमें महिला बंध्याकारण के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सरमेरा , पुरुष नसबंदी के लिए रेफरल अस्पताल आस्थावा , पीपीएस के लिए बिहारशरीफ व थरथरी प्रखण्ड , पीपीआईयूसीडी के लिए पार्थमिक स्वास्थ्य केंद्र परवलपुर, आईयूसीडी के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र हिलसा एवं अंतरा को बढ़ावा देने के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गिरियाक है।
इसके अलावा पुरस्कार समारोह में परिवार नियाजन काउंसिलर प्रमोद कुमार दास , सोनी कुमारी और संजय कुमार सिंह को भी उनके बेहतर प्रदर्शन के लिए सम्मानित किया गया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.